Friday, 21 July 2017

Carbide Bananas Hoax

केले खाने से पहले बरतें सावधानी

केले खाते समय सावधान
🍌🍌🍌🍌🍌🍌🍌🍌🍌
30/- से 40/- रु दर्जन इस दर से मृत्यु बेची जा रही है. सबसे विनती है कि सावधान रहें .

हम सभी केले पसंद करते हैं और इनका भरपूर स्वाद उठाते हैं परंतु अभी बाज़ार में आने वाले केले  कार्बाइडयुक्त पानी में भिगाकर पकाए जा रहे हैं , इस प्रकार के केले खाने से 100% कॅन्सर या पेट का विकार हो सकता है.  इसलिए अपनी बुद्धि का इस्तेमाल करें और ऐसे केले ना खाएँ .

परंतु केले को कार्बाइड का उपयोग करके पकाया है इसे कैसे पहचानेंगे :-

यदि केले को प्राकृतिक तरीके से पकाया है तो उसका डंठल काला पड जाता है  और केले का रंग गर्द पीला हो जाता है . कृपया नीचे दिए फोटो को देखें साथ ही केले पर थोड़े बहुत काले दाग रहते हैं . परंतु यदि केले को कारबाइड का इस्तेमाल करके पकाया गया है तो उसका डंठल हरा होगा और केले का रंग लेमन यलो अर्थात नींबुई पीला होगा इतना ही नही ऐसे केले का रंग एकदम साफ पीला होता है उसमे कोई दाग धब्बे नहीं होते कृपया नीचे दिए फोटो को देखें.

कारबाइड आख़िर क्या है , यदि कारबाइड को पानी में मिलाएँगे तो उसमें से उष्मा (हीट) निकलती है और अस्यतेलएने गॅस का निर्माण होता है जिससे गाँव देहातों में गॅस कटिंग इत्यादि का काम लिया जाता है अर्थात इसमें इतनी कॅलॉरिफिक वॅल्यू होती है  की उससे एल पी गी गॅस को भी प्रतिस्थापित किया जा सकता है . जब किसी केले के गुच्छे को ऐसे केमिकल युक्त पानी में डुबाया जाता है तब उष्णता  केलों में उतरती है और केले पक जाते हैं , इस प्रक्रिया को उपयोग करने वाले व्यापारी इतने होशियार नहीं होते हैं कि उन्हें  पता हो की किस मात्रा के केलों के लिए कितने तादाद में इस केमिकल का उपयोग  करना है बल्कि वे इसका अनिर्बाध प्रयोग  करते हैं जिससे केलों में अतिरिक्त उष्णता का समावेश हो जाता है जो हमारे पेट में जाता है जिससे कि :-

1. पाचन्तन्त्र में खराबी आना शुरू हो जाती है , 2. आखों में जलन , 3. छाती में तकलीफ़ , 4. जी मिचलाना , 5. पेट दुखना , 6. गले मैं जलन , 7. अल्सर , 8. तदुपरांत ट्यूमर का निर्माण भी हो सकता है .

इसीलिए अनुरोध है की इस प्रकार के केलों का बहिष्कार किया जाए , इसी तरीके से आमों को भी पकाया जा रहा है परंतु जागरूकता से महाराष्ट्र में इस वर्ष लोगों ने कम आम खाए तब जा के आम के व्यापारियों की आखें खुली , अतः यदि कारबाइड से पके केलों और फलों का भी हम संपूर्ण रूप से बहिष्कार करेंगे तो ही हमें नैसर्गिक तरीके से पके स्वास्थ्यवर्धक केले और फल बेचने हेतु व्यापारी बाध्य होंगे अन्यथा हमारा स्वास्थ्य ख़तरे मैं है ये समझा जाए .

-- 

Capt Shekhar Gupta
CEO
Shekhar@AeroSoft.in 
WA +91 9111103800
PH  +919826008899



Carbide Bananas Hoax
how to remove carbide from fruits,
how to identify artificially ripened bananas,
how to detect calcium carbide in fruits,
chemical used to ripen bananas,
how to remove carbide from banana,
calcium carbide fruit ripening side effects,
calcium carbide side effects on humans,
carbide poisoning treatment,

No comments:

Post a comment

Note: only a member of this blog may post a comment.

Brand Matters in Blogging and Social Media Content Career Too

www.AlfaBloggers.com Blogging Division of AirCrews Aviation P Ltd Brand Matters in Blogging and Social Media Content Career Too Why Branded ...